ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा
ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

देख मेरे जूते 👞👞 भी तेरी नियत से ज्यादा साफ़ है 😎😎

माना कि मैं बुरा हूँ…पर अच्छे लोगो की तरह दुसरों पर कीचड़ नही उछालता 😏 😎

ज़िन्दगी को इतनी भी सस्ती मत समझो कि 2 कौड़ी के लोग आकर तुम्हारी ज़िन्दगी से खेल जाए 😏 😎 😏

वक्त आने दो बंदूख भी उठायेगे, ट्रिगर भी दबाएंगे और गोली भी चलाएंगे, और उस पर राज भी करेगे, जिसे लोग कहते है ….. ” दुनिया ” 😏😏

रूठा हुआ है मुझसे इस बात पर ज़माना कि शामिल नहीं है फितरत में मेरी सर झुकाना 😎😎

जलने लगा है जमाना सारा …… क्योंकि चलने लगा है नाम हमारा 😏😏

मैं लोगों की तरह मिलावट नहीं करता , मोहब्बत हो या नफरत जो भी करता हूँ 100% करता हूँ 😎😎

औकात तो कुत्तों की होती है….. हमारी तो हैसियत है 😎

आँखे न फाड़ पगली दिल को आराम दे , मुझे क्या देखती है अपने वाले पर ध्यान दे

मेरा वजूद नहीं किसी तलवार और तख्तो-ताज का मोहताज 😏, मैं अपने हुनर और हंसी से लोगों के दिलों मे राज करता हूँ 😎 👫 😉

जख्म कितने भी गहरे हो मरहम‌ जरुर लगता है …..याद रख तेरे वार के जख्म से ही मुझमे‌ गुरुर बनता है 😜 😎 😜

लहरो को खामोश देखकर ये ना समझना की समंदर मे रवानी नही है…. हम जब भी उठेगे तूफान बनकर उठेगे…. बस उठने की अभी ठानी नही है

वक्त दिखाई नहीं देता है पर, दिखा बहुत कुछ देता है 😎😎

तूफ़ान में ताश के महल नहीं बनते , रोने से बिगड़े मुकद्दर नहीं बनते , सारी दुनिया को जीतने का दम रख ऐ बन्दे !! क्यूंकि एक हार से लोग फ़कीर और एक जीत से सिकंदर नहीं बनते 😎😎

चर्चाओं में रहने का हमें शौंक नहीं , हमारी हर बात के चर्चे है तो हम क्या करें..😈😎

पहले भी हम थे, कल भी हम ही रहेंगे, ना हमारी कोई जगह ले सकेगा , ना हम उसे अपनी जगह लेने देंगे…😎😈

बन्दा‌ नही है कोई टक्कर का आज की तारीख में …इसलिए लफ्ज कम‌ पड़ जाते है हमारी तारीफ में 😈😎

नाम एक दिन में नही बनता पर एक दिन जरूर बनता है..😈

शीशा कमज़ोर बहुत होता है, मगर सच दिखाने से घबराता नहीं है 😎 😉😎

अगर आसमान वाले से आपके रिश्ते मज़बूत है तो…😅😍 ज़मीन वाले आप का कुछ नही बिगाड़ सकते…😡

तू मशगूल रहे तेरे अपने गुरुर में ….मैं‌ भी Busy हूँ अब अपने‌ Attitude के शूरुरम में

हम तो वो Villan है 😈 जो शराफत की उम्मीद, तो खुद से भी नहीं करते हैं ।। 😈😎

मुझे क्या डराएगा मौत का मंजर, हमने तो जन्म ही कातिलों की बस्ती में लिया है

पिता की दौलत पर क्या घमंड करना , मज़ा तो तब है जब दौलत अपनी हो और घमंड पिता करे 😎 😉😎

मिजाज हमारा भी कुछ-कुछ 😏 है समुंद्र के पानी जैसा.. खारे 😒 हैं, मगर खरे 😏 हैं..

नजर अंदाज जितना करना है कर लो… अन्दाजा उस दिन का भी कर लो जब हम नजर नहीं आयेगे..

मैंने कुछ लोग लगा रखे हैं पीठ पीछे बात करने के लिए … पगार कुछ नहीं है उनकी पर काम बड़ी ईमानदारी से करते हैं

ooncha udakar itana na itarao parindo agar mein aukaat par aa gaya to aasamaan khareed loonga

जिन लोगों को मुझसे नफरत है वो करते रहे , मैं कौन सा सबसे प्यार करता हूँ

मुझे मिलना है आसमान से, ऊँचाइयों पर नहीं , उस से कहो नीचे आए !

हमारा Style 😎 और Attitude 😏 ही कुछ अलग है, बराबरी करने जाओगे तो बिक जाओगे…

मत करो मेरी पीठ के पीछे बात जाकर कोने में ….. वरना जिंदगी बीत जाएगी बस रोने में

वो पसंद ही क्या 😏? जिसको पसंद आने के लिए खुद 😎 को बदलना 😒 पडे…

तुम्हें लगता 😏 है कि गलत 😒 हूँ मैं, तो सही हो तुम , क्योंकि 😏 थोड़ा अलग 😎 हूँ मै…

आफत 🙆नहीं जो टल जाऊँगी… आदत हूँ ..लग जाऊँगी

ये जो तुम मुझसे बात नहीं करती , ये नफरत की निशानी है या प्यार हो जाने का डर

खमोश रहा करो..यहाँ किसी के रोने से किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता 😎 😏 😎

mobile में network और रिश्तों में भरोसा ना हो तो लोग अक्सर Game खेलने लग जाते हैं 😎 😉

हाथ बाँधे क्यों खड़े हो हादसों के सामने, हादसे कुछ भी नही है हौसलों के सामने..

कुछ लोग पकौड़े जैसे होते है, थोड़ा सा ध्यान ना दो तो जल जाते है 🔥😈😅

यकीन करना सीखो शक तो सारी दुनिया करती है…

एक ना एक दिन मंज़िल मिल ही जाएगी …. ठोकरें , ज़हर थोड़े है जो खा कर मर जाऊंगा 😉😎

फर्क बहुत है तेरी और मेरी तालीम में, तूने उस्तादों से सीखा है और मैंने हालातो से.