Dhokhebaj Status Hindi

पीठ पीछे धोखा शायरी !! Behind the back cheating Shayari

फिर से उसी शक्श से प्यार की उम्मीद करता है, ऐ दिल तुझें इज्ज़त रास नही आती क्या?

Advertisement

यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझे , ख़ुशी है कि तुम उम्मीद पे खरे उतरे।

 

खूब देखे होंगे आंसू ख़ुशी के तुमने कभी मिलो हमसे , तुम्हे गम के हसी दिखाएंगे ।

 

जबसे प्यार 💔 में धोका खाया है , हर हुस्न वालों से डर 😱 लगता है … पहले अंधेरे की आदत नहीं थी मुझे , अभी उजालों से 😨 डर लगता है … ।। 😟

 

जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें, उस बदनसीब से ना सहारों की बात कर

पीठ पीछे धोखा शायरी

इश्क़ में किनारा पाना आसान नहीं, हर लहर यहाँ धोके की उठती हैं।

 

तुझे भूलने की हमने ना जाने कितने कोसिश की मगर इस वक़्त ने भी हमसे बेवफाई की ।।

 

दुख ही लिखा था मेरे नसीब मे मे बेवकूफ गलट समझ बैठा कुछ चांद पाल की खुसी ढूंढते हुए अपना दिल तुम्हारे पास कर बैठा .।

झूठ और धोखा शायरी

दिल ❤️ के ज़ख्मो को 😎 दिखाना बहुत मुश्किल है धोखा 💔 मिलने पर भी 🙄 बताना मुश्किल है ।।

Advertisement

तक़दीर 😥 भी मेरी अजीब खेल 🤷 खेली जिसे 💕 दिल से चाहा उसे से😡 नफरत हो गई ।।

 

हम तो बने ही थे तबाह होने के लिए, तेरा छोड़ जाना तो महज़ बहाना बन गया।

 

ना जाने क्या लिखा है तक़दीर में, जिसे भी चाहा उसी ने धोखा दे दिया।

 

कितना टूटा हूं किस अल्फाज में बयां करूं, सीने में दर्द आज भी उठता है तुझे याद कर कैसे बताऊं, तेरी कमी आज भी खलती है तुझे कैसे समझाऊं।

 

सुन ले मेरी बुलबुल दिल मे है तेरी तस्बीर !! तू ही तू है मेरी ज़िंदगी मेरी तकदीर !!

 

दिल हज़ार बार चीखे उसे चिल्लाने दीजिए, जो आपका नही हो सकता उसे जाने दीजिए। !!”

 

जब धोखा ही था तुम्हारी मोहब्बत. तो झूठ अपनी लबो को कहने देते. और जब मै सुखी था, मुझे अपने बिना ही रहने देते

 

आशिकी की हद तो देखो धोखा मिलने के बावजूद भी हम उनपे मरते हैं !

धोखेबाज अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी

पता है तुम्हारी और हमारी मुस्कान में फ़र्क क्या है? तुम खुश हो कर मुस्कुराते हो, हम तुम्हे खुश देख के मुस्कुराते हैं.. ।

साथ मेरे होकर भी वो किसी और के करीब था, जिसे अपना मान बैठे थे हम वो किसी और की तकदीर में था।

 

रस्मों रिवाज की जो परवाह करते हैं प्यार में वो लोग गुनाह करते हैं इश्क वो जुनून है जिसमें दीवाने अपनी खुशी से खुद को तबाह करते हैं ।।

 

क्या 🤷 मजबूरी थी कि वो हमें 💔 छोड़ गए किस्मत पर ✍️ लिखी वो कहानी 😘 अधूरी छोड़ गए ।।

Advertisement

जो वादा किये थे हम प्यार मै उसे तुने पलभर मै टोड़ दिया हाज़ारो ख्वाहिशे एकपल मैं रुक गया सिर्फ अंशु थाम नेही राहा

 

भूलने की तुझे हमनें न जाने क्या क्या जुगाङ किये, जिस वक़्त थी तो मेरी ज़िंदगी मे, उस वक़्त के पन्ने भी हमने फाड़ दिये।

Behind the back cheating Shayari

बिछड़ कर भी बिछड़ा नहीं हु तुमसे अब तो तभी बिछड़ पाउगा जब साँसे बिछ्ड़ेगी हमसे

 

सच्चा इश्क किया था तो अब, हम भी बेवफाई के गीत गायेंगे बेवफाई में तेरा नाम न उठे इसलिए हम आसू लेकर हर शहर मुकुरायेंगे

 

भरोसा जितना कीमती 💰 होता है , धोका 💔 उतना ही महंगा हो जाता है … ईमानदारी का दाम कोन जाने 🤔 , यहां हर बेइमान राजा हो जाता है … ।।

पीठ पीछे धोखा शायरी in english

मुझ पर विश्वास करने वालों को धोखा दूं ऐसी मेरी फितरत नहीं, मुझे भला बुरा कहने वाले बस इतना जान लें, मुझे समझ पाना हर किसी के बस में नहीं।

 

ना जाने क्या लिखा है तक़दीर में, जिसे भी चाहा उसी ने धोखा दे दिया। |

 

दिल ❤️ रोता है तो उसे 😥 रोने दीजिये जो 🤔अपना ना हो सके उसे🚶🚶 जाने दीजिए ।।

 

इस बैबस दिल मे बस तेरी यादें है बासा वुल चूका इस ज़माने को पूरा कुछ इस तरहा बेवफा तुने धोका दिया शरीर तो चल रहा है पर दिल मर गया पुरा

 

साथ 💏जीने मरने का ✌️वादा था, मर के भी साथ न छोड़ने का वादा था. सारी बातों से😡 तू मुखर क्यूँ गयी. ए ❤️सनम तू मुझे धोका 💔दे कर चली🚶 गयी.।

 

हमे लगा हमे देख कर मुस्कुराना सीखा है उन्होंने, पर वो तो पैसों से मुस्कुराया करते थे।

 

प्यार निभाने के लिए , मैं हमेशा झुकता रहा और तुम इसे मेरी औकात समझ बैठे।ा।

 

किसने कहा दूर होने में इश्क की हार हैं जो प्यार पूरा न हुआ आखिर वो भी तो प्यार हैं

 

पता नहीं कैसे धोखा खाकर भी, हम जिंदा हैं पर तुझसे इश्क करके हम बहुत शर्मिंदा हैं

 

उन्होंने हमे आजमाकर 🤨 देख लिया , एक धोका 💔 हमने भी खाकर देख लिया … क्या हुआ हम हुए जो उदास , 😔 उन्होंने तो अपना दिल ♥️ बेहलाके देख लिया … ।। !

 

ये वहम था मेरा कि तू हमसफर है मेरा, मैं चलता रहा हमेशा तेरे साथ में, और तू चलती रही किसी और की तलाश में।

Advertisement

धोखा देना तेरी फितरत है, धोखा खाना मेरी आदत है।

 

ये नामुमकिन है कोई मिल जाए तुम जैसा, पर इतना आसान ये भी नहीं, तुम ढूंढ लो हम जैसा।

 

चलो 💔धोका ही था तुम्हारा इश्क ❤️सब झूठ था, तो झूठ अपनी जुबा 👨‍❤️‍💋‍👨को कहने देते। मै खुश 😂था मुझे धोखे 😥में ही रहने देते।

विश्वास पर धोखा शायरी 2 Line

उनकी ढोखे ने सिर्फ घर नही तोडा उम्मीदो से भरी सपने तोड़ दिया दिलमे दबी आरज़ू बिखार गया सारा ज़िन्दगी का मक़सद बदल दिया पुरा

 

क्या खूब रंग दिखाती है जिंदगी क्या इक्तेफ़ाक होता है, प्यार में ऊम्र नही होती पर…. हर ऊम्र में प्यार होता है|

 

साथ 💏रहना था ही नहीं तो तुमने हमसे 💏नाता क्यों जोड़ा., हमे धोका💔 देकर तुमने हमे कही का 😥नहीं छोड़ा।

 

ये इश्क भी क्या चीज़ है, एक वो है जो धोखा दिए जाते हैं, और एक हम है जो मौका दिए जाते हैं।

 

आदत नई हमे पीठ पीछे वार करने की दो शब्द काम बोलते है पर सामने बोलते है

 

उसके गलत होने पर भी मैंने उसे चाहा था। खुद की नजरों में खुद को गिराया था।

Advertisement

नासमझ थे हम जो हर किसी पर भरोसा करते गए, लोगों ने तो पहले ही धोखा खाने की चेतावनी दी थी।

 

बड़ी हसीन 👩 थी जिंदगी , जब ना किसी से मोहब्बत ♥️ ना किसी से नफ़रत थी … जिंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मोहब्बत उससे हुई , और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी … ।

 

उस धोकेबाज़ ने बेशक मेरा दिल तोडा मगर दिल के उन्ही टुकडो में आज भी वो धोकेबाज़ बसा है.

 

क़िस्मत की भी मेरे साथ अजीब ठिठोली, जिसे चाहा दिल से, वो भी वक्त के साथ किसी और कि हो ली।.

 

कोई दिक्कत नहीं है ignore करो पर याद रखना टाइम सबका आता ह

One Comment

x